बच्चों में मोटापा और वजन बढ़ने के यें है मुख्य कारण, सामान्य बच्चे का वजन कितना होना चाहिए

बच्चों में मोटापा तेजी से बह रहा है। गलत खानपान आउटडोर खेल गतिविधियां कम होने से शहरों के बच्चों का वजन तेजी से बढ़ रहा है । किशोरों में 25% मोटापे की वृद्धि हुई है। शरीर का वजन लंबाई के अनुसार भी होता है। बच्चों में अनियंत्रित ढंग से बढ़ते वजन को अमरीका में बड़ी समस्या बन चुका है। वहां के डॉक्टरो के ने तो कहा है कि अगर इस पर काबू नहीं पाया गया तो यह एक महामारी का रूप ले सकती है और इसकी चेतावनी तक ले डाली है।

वजन बढ़ने से होती है यें दिक्कते

फैटी लीवर, खंराटे, मधुमेह, हाइपरटेंशन, उच्च रक्तचाप, त्वचा से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

मोटे बच्चों में बच्चों में तनाव और आत्मविश्वास की कमी की समस्या होती है।

 

यें है मुख्य कारण बच्चों में वजन बढ़ने के

11 से 20 वर्ष की आयु के 80% बच्चे कैंडी, चॉकलेट, पिज़्ज़ा, बर्गर, मीठी चीजें, फ्रेंच फ्राइज जैसी चीजें खाते है। इस आयु में इस वजह से भी बच्चों का वजन काफी तेजी से बढ़ता है।

बदलती दिनचर्या

अक्सर बच्चे नियमित शारीरिक गतिविधियों नहीं करते है। वे बार खेलकूद नहीं करते जिस कारण कैलोरी खर्च नहीं हो पाती। पूरे दिन भर मोबाइल, वीडियो, टेलीविज़न इत्यादि का प्रयोग करते रहते हैं।

आनुवांशिक

आनुवांशिक कारणों से भी मोटापा बढ़ता है। हालांकि यह 3-5% बच्चों में ही होता है कि यदि माता-पिता मोटापे से ग्रस्त है या पिता मोटापे से ग्रस्त है, तो बच्चे में भी मोटापे की आशंका बढ़ जाएगी।

दवाइयां

किसी बीमारी के कारण बच्चे का लंबे समय तक इलाज चलता रहता है। जिसमें उसे एंटीबायोटिक दवाएं दी जाती है जो कि वजन बढ़ा सकती है। 7 से 10% बच्चों ने मोटापे बढ़ने का कारण यह भी हो सकता है।

 

बढ़ते वजन को रोकने के लिए जरूरी हैं ये कदम →

  • खानपान की आदतों को बदलें
  • टीवी देखते हुए कुछ भी न खाए
  • तली हुई चीजें, फास्ट फूड नहीं खिलाए
  • खाने के आधे घंटे पहले सलाद दें
  • स:परिवार बच्चों के साथ भोजन करें
  • हर समय या कभी भी खाने की आदत बदले
  • खाने से तीन घंटे से पहले, बिना भूख लगे जबरदस्त न खिलाएं

 

खाने की गलत आदतें

बच्चो की खाने की गलत आदतें मोटापा बढ़ने का कारण है। भूख लगने से पहले ही भोजन खाने से मोटापा बढ़ता है।

बाहर की चीजें, स्नेकस, फास्ट फूड, मीठा आदि खाने से वजन काफी तेजी से बढ़ता है। 90 फीसदी मोटापा गलत खानपान से बढ़ता है।

 

सामान्य बच्चे का वजन कितना होना चाहिए?

डब्ल्यूएचओ के अनुसार जन्म से 10 साल तक के बच्चे का वजन उसके जन्म के वजन के आधार पर निर्धारण करते हैं।

 

उम्र वजन
5 माह Weight प्रति सप्ताह 210gm की बढ़त
0-3 माह जन्म के वजन से दुगुना
6-12 माह प्रति माह 400gm की बढ़त
1 वर्ष जन्म के वजन से तीन गुना
2 वर्ष जन्म के वजन से चार गुना
3 वर्ष जन्म के वजन से पांच गुना
5-6 वर्ष जन्म के वजन से छः गुना
7 वर्ष जन्म के वजन से सात गुना
10 वर्ष जन्म के वजन से दस गुना

 

प्रतिवर्ष 2kg वजन बढ़ना जरूरी

एक औसत स्वस्थ बच्चे का वजन 10 वर्ष तक की आयु तक प्रति वर्ष दो किलोग्राम की दर से बढ़ना चाहिए | उसके बाद वयस्क होने पर 3 किलो वजन हर साल बढ़ना चाहिए।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *